poem (english)

I Loved:U Crushed

You are mine and I am yours You had always make me assured, We live together now and forever that's the deal what we had locked, Whenever you looked at me my heart always fall's, Either it's rain or it's dawn Whatever I see I see it with the eye's of your's. I remembered those… Continue reading I Loved:U Crushed

hindi shayari
Shayari

नज़रे

जो जिक्र आता है तेरा कही खामोश हो जाती है जुबां मेरी,फेर लेता हूँ नज़रे दूसरी ओर अक्सर बयां कर देती है ये सच || Read More -  गुमनामपरिंदामिजाजइंतजारअक्स ©COPYRIGHT 2020All rights reserved to Writomaniacs.

Poem (Hindi)

किसी से कोई शिकवा नहीं…..

दर्द की इंतहा हो गई है की मौत से भी ज्यादा गमगीन जिंदगी हो गई दूर थे जो अपने उन्हें खोने का डर लगता था आज अपनों की पहचान नजदीक से हो गई है।। वाकिफ तो थे हम दुनिया की साजिशों से आज अपनों की भी आजमाइश हो गई है साथ चलने को दुनिया थी… Continue reading किसी से कोई शिकवा नहीं…..

Shayari

निगाहें

फखत देखा था उनकी निगाहों मे इक दफा, किसी और के तसव्वुर मे अब उठती नहीं  निगाहें // Read More- काबिलियत गुमनाम परिंदा मिजाज इंतजार अक्स ©COPYRIGHT 2020 All rights reserved to Writomaniacs.

Shayari

काबिलियत

जिसे पाने की दिल में कोई तमन्ना ही न थी, उसे खोने का आज हमको ग़म ये कैसा।। वो कहते है हमसे तुम इसके काबिल ही न थे, ईल्म उनको हमारी काबीलियत का कैसा।। Read more - गुमनाम परिंदा मिजाज इंतजार अक्स ©COPYRIGHT 2020 All rights reserved to Writomaniacs.

Shayari

गुमनाम

अकेला ही था मे गुमनाम राहों मे सुनता गया सबकी लिखता गया अपनी, अनजान ही रहा मे उन महफिलों से जहां गूंजता गीत भी मेरा ही लिखा था // ©COPYRIGHT 2020 All rights reserved to Writomaniacs.

Poem (Hindi)

कश्मकश

जिसे पाने की दिल में कोई तमन्ना ही न थी, उसे खोने का आज हमको ग़म ये कैसा।। वो कहते है हमसे तुम इसके काबिल ही न थे, ईल्म उनको हमारी काबीलियत का कैसा।।

Random thoughts

Nothing Right or Wrong

“You say time is the best healer, passing time changes everything. May be not, time doesn’t change anything it just passes away leaving behind the traces of memories; some are bad, some are good. No, may be not even good or bad; right or wrong. It could be way of defining situations there is no right or wrong. Everything is happening was suppose to be happen. Your destiny or situation whatever you say could be the only possible reason for all the sufferings you are facing.”

Poem (Hindi)

सत्य कि तलाश

जब कभी खुद को अकेला पाया चारों ओर सन्नाटा घना अँधेरा पाया, मन में बस एक ही विचार आया कौन है वो जिसने मुझे बनाया, अगर उसने मुझे बनाया तो दुखों के साथ क्यों बनाया। यकि नहीं होता कि एक दिन मैं मरुँगा, क्या मेरे अंदर भी कोई आत्मा हैं कभी महसूस नहीं होता, फिर… Continue reading सत्य कि तलाश

Random thoughts

Alone (Fiction)

It's three years passed when I had decided to live alone. From quieting my friends to maintain distance from my relatives. Everything was wonderful, life was going smoothly. I was no more witness to their disturbances. I got a chance to meet me, I learn to enjoy my own company. By doing all this I… Continue reading Alone (Fiction)