Shayari

निगाहें

फखत देखा था उनकी निगाहों मे इक दफा, किसी और के तसव्वुर मे अब उठती नहीं  निगाहें // Read More- काबिलियत गुमनाम परिंदा मिजाज इंतजार अक्स ©COPYRIGHT 2020 All rights reserved to Writomaniacs.

Shayari

काबिलियत

जिसे पाने की दिल में कोई तमन्ना ही न थी, उसे खोने का आज हमको ग़म ये कैसा।। वो कहते है हमसे तुम इसके काबिल ही न थे, ईल्म उनको हमारी काबीलियत का कैसा।। Read more - गुमनाम परिंदा मिजाज इंतजार अक्स ©COPYRIGHT 2020 All rights reserved to Writomaniacs.

Shayari

गुमनाम

अकेला ही था मे गुमनाम राहों मे सुनता गया सबकी लिखता गया अपनी, अनजान ही रहा मे उन महफिलों से जहां गूंजता गीत भी मेरा ही लिखा था // ©COPYRIGHT 2020 All rights reserved to Writomaniacs.

Poem (Hindi)

कश्मकश

जिसे पाने की दिल में कोई तमन्ना ही न थी, उसे खोने का आज हमको ग़म ये कैसा।। वो कहते है हमसे तुम इसके काबिल ही न थे, ईल्म उनको हमारी काबीलियत का कैसा।।

Poem (Hindi)

सत्य कि तलाश

जब कभी खुद को अकेला पाया चारों ओर सन्नाटा घना अँधेरा पाया, मन में बस एक ही विचार आया कौन है वो जिसने मुझे बनाया, अगर उसने मुझे बनाया तो दुखों के साथ क्यों बनाया। यकि नहीं होता कि एक दिन मैं मरुँगा, क्या मेरे अंदर भी कोई आत्मा हैं कभी महसूस नहीं होता, फिर… Continue reading सत्य कि तलाश

Poem (Hindi)

नहीं कोई मजा यूँ…

नहीं कोई मजा यूँ मंजिलो को पाने में जब रास्ते सीधे हो और मंजिल सामने, मजा तो तब है जब रास्ते उलझे हुए हो और मंजिले धुमिल, नहीं कोई मजा यूँ जिंदगी जीने में जब न हो कोई मुश्किले और न कोई खिलाफ, मजा तो तब है जब जिंदगी में हो मुश्किल अनेक और एक… Continue reading नहीं कोई मजा यूँ…

Poem (Hindi)

आईना

दिल के इशारो में आसमाँ के किनारो में जो एक अजीब सी पहेली हैं, वो देखी है मैंने तुम्हारी आँखो में। आईना सी लगती हैं ये आँखे तुम्हारी, जब खुद को साफ-साफ देख पाता हूँ मैं इन आँखो में तुम्हारी। इक अजीब सी खुशी का एहसास होता हैं मन में, जब मेरी आँखो के सामने… Continue reading आईना

poem (english)

Conscience…

  You're veritable  other's lying, You pushed me other's pull back, You're the one  who forever with me, Everyone else's  merely get along & faded. You teaches me  to utilize time, Else's victimized me timely. You lightened my path Other's obliterated my dreams, You'd given me another chance They snatched my maiden opportunity. Who are you?… Continue reading Conscience…

Poem (Hindi)

चाँद और रोशनी।

  हमने तो उससे माँगी थी रोशनी उसने तो हमें चाँद ही दे दिया, खुश हुए थे बहुत हम उसे पाकर हमें लगा जैसे हमारी जिंदगी में अंधेरा ही न रहा। लोगों ने कहा हमें कि हर चाँद में दाग होता हैं, हमने कहा कि यह चाँद खुदा ने हमे बेदाग दिया हैं। हर कदम पे… Continue reading चाँद और रोशनी।

poem (english)

Life is a Beautiful Song

  Life is a beautiful song Sung it's every bit and all, Sometimes you will go offbeat doesn't matter start again it all.... Now it's time to sing a sad song but one day you will sung with pleasure don't loose hope there always a dawn after every eve all you have to do is… Continue reading Life is a Beautiful Song

poem (english)

Mother in the child Eye!!!

Sometimes she make me cry Otherwise satiate me with joy, Who is She? One who always with me in my each and every decisiveness, Often she looks hard but holds a soft heart, She abide a lot, but never say inauspicious at all, Who is She? One Who never peeved of me at all. Those… Continue reading Mother in the child Eye!!!

Poem (Hindi)

माँ

कभी रुलाती है वो तो कभी हॅंसाती है वो, कौन है वो ? जो पग-पग पर मेरा साथ निभाती है, कठोर बनकर दिखाती है वो अंदर से कोमल नजर अाती है वो, लबों पर कभी उसके बददुआ नहीं होती, कौन हे वो ? जो मुझसे खफा नहीं होती। धन्य है वो, जो पा ले उसका प्यार,… Continue reading माँ

poem (english)

Child With A Childish Attitude

  I'm a child with a childish attitude, Don't know the matter what's going on. I often laugh but never talk everyone seems to be like a alien to me, talking to me unremittingly knowing that I will not respond, I ever try to interpret but failed again and again looks like a life to… Continue reading Child With A Childish Attitude

poem (english)

Looking with the inner eyes!!!

I ever perceived this world With two beautiful eyes, I beheld the People becoming Old, visualized them to die. I ever hark at the radiant Sunrise, Also spotted the Refulgent Sunset. People will come and go But few legends have their mark. Though I Sets my eye on radiant light coming deeper inside. It's not what… Continue reading Looking with the inner eyes!!!

poem (english)

A World Inside Me!

We just continuously  run throughout our life in search of more money and more comfort. But always their comes a time when you didn't feel satisfied and happy even after achieving the most precious goals of your life. You just feel alone even in rush of people. Now Congratulations, there comes the time to meet… Continue reading A World Inside Me!